HATRAS LATEST Viral NEWS: हाथरस सत्संग हादसे में मरने वालों में से ज्यादातर महिलाएं और बच्चे… जानिए लाइव अपडेट

HATRAS LATEST Viral NEWS: हाथरस के राया थाना क्षेत्र के माजरा गांव में रविवार को एक धार्मिक सत्संग में भगदड़ मच गई जिसमें 107 लोगों की मौत हो गई और 200 से अधिक लोग घायल हो गए। बताया जा रहा है कि हजारों लोग सत्संग में शामिल होने के लिए पहुंचे थे और प्रसाद बॉटते दौरान भगदड़ मच गई। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है जिनमें कई की हालत गंभीर है। शुरू करते हैं इस लेख को और इस न्यूज़ को विस्तार से जान लेते हैं।

HATRAS LATEST Viral NEWS

HATRAS LATEST Viral NEWS

हाथरस जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं।  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी घटना पर दुख व्यक्त किया है और घायलों के इलाज के लिए सभी आवश्यक व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं।

Read More:- Hatras stampede: हाथरस में सत्संग के बाद घटा भीषण हादसा, 120 से ज्यादा लोगों की हुई मौत, जानिए पूरा मामला..

Details of the incident

यह घटना सुबह करीब 11 बजे हुई थी जब हजारों लोग हाथरस जिले के बुलगढ़ी गांव में आयोजित एक धार्मिक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए जमा हुए थे। बताया जा रहा है कि भगदड़ उस समय मची जब लोग प्रसाद पाने के लिए लाइन में लगे थे।

Number of dead and injured

पुलिस के अनुसार इस भगदड़ में 107 लोगों की मौत हो गई है। जिनमें ज्यादातर महिलाएं और बच्चे हैं। कई अन्य लोग घायल हुए हैं जिनमें से कुछ गंभीर रूप से घायल हैं। घायलों को हाथरस के अस्पताल और आगरा के मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है।

Chief Minister Yogi Adityanath expressed grief

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस हादसे पर दुख व्यक्त किया है और घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है। उन्होंने मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना भी व्यक्त की है। उन्होंने घटना की जांच के लिए एक उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। इस हादसे ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया है।

More Information

इस भगदड़ के कारणों की अभी जांच की जा रही है। कुछ प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि भगदड़ उस समय मची जब कुछ लोगों ने प्रसाद के लिए लाइन में धक्का-मुक्की शुरू कर दी। अन्य का कहना है कि भगदड़ उस समय मची जब कार्यक्रम स्थल का एक दरवाजा अचानक बंद हो गया। इस हादसे में कई बच्चों की मौत हुई है जिससे आसपास के क्षेत्र में भारी गुस्सा और आक्रोश है।

Leave a Comment